किन्नरों की ज़िन्दगी के संघर्षों को दिखाता नाटक मंगलमुखी

किन्नर, इंसानों का तीसरा जेंडर। हिजड़ा, छक्का जैसे शब्दों से अपमानित किये जाने वाले हम आप जैसे सामान्य लोग। हम सभी ने कहीं न कहीं देखा है इनको, अधिकतर बार ट्रेनों में, सिग्नल पर माँगते हुए या रेड लाइट एरिया में सेक्स वर्कर के रूप में। एक पुरे जेंडर से हमारा साक्षात्कार महज इन्ही जगहों […]