दुनिया भर के रचनाकारों को अपनी जिम्मेदारी का बोध कराती एक कविता बिहार से

ऐश्वर्य राज का ताल्लुक़ बिहार के भागलपुर शहर से है। शुरूआती पढ़ाई बिहार से करने के बाद, ऐश्वर्य दिल्ली विश्वविद्यालय के मिरांडा हाउस से दर्शनशास्त्र में स्नातक कर रहीं हैं। विश्वविद्यालय स्तर पर कई वाद-विवाद प्रतियोगिताओं में अपना परचम लहरा चुकी हैं और कहती हैं कि इनके लिए लिखना थोपी हुई आइडेंटिटी पर सवाल करना है। […]

एक कविता बिहार से: पटना की युवा कवियत्री पूजा कौशिक की कविता, ‘आइना’

एक कविता बिहार से में आज हम आपके सामने ले कर आये हैं पटना की एक नवोदित युवा कवियत्री पूजा कौशिक की कविता। पटना के युवाओं के बीच पूजा एक लेखिका और वक्ता के तौर पर अपनी एक पहचान बना चुकी हैं। इनकी कविताओं की बात करें तो इनके विषय का दायरा काफी बड़ा और […]

जब नाश मनुज पर छाता है | एक कविता बिहार से !

नमस्कार! दुआ-सलाम! बिहार से जुड़ी ख़बरों-लेखों का यह संयुक्त पोर्टल आपको उन महारथियों से भी मिलवाता रहा है जो बिहार के ‘बिहार’ होने में खास जगह रखते हैं| बिहार के सकारात्मक परिदृश्य को आपके समक्ष सफलता से प्रस्तुत करता आया “पटनाबिट्स” आपके भीतर की रचनात्मकता को आमंत्रित करता है| नये-पुराने कवियों की एक अदभुत गोष्ठी […]

ये जो मेरा बिहार है, इसे तुम यूँ ना पुकारो |

ये जो मेरा बिहार है, इसे तुम यूँ ना पुकारो, दुःख होता है मुझे, जन्मभूमि जो है, सपूत जो हूँ इसका, मेरी पहली सांस को, २००० सालों का आशीर्वाद प्राप्त है, हर एक बूँद शोणित का, जो मेरे रगों में है, वीर कुंवर का रक्तांश है। जो ज्ञान मेरे मस्तिष्क में है, वह मुझे नालंदा, […]