बिहार की पहली महिला फुटबॉलर गोल्ड मेडलिस्ट- अंशा सिंह

इस पितृसत्तात्मक समाज में हर छोटी से छोटी और बड़ी से बड़ी चीज़ लिंग को आधार पर वर्गीकृत किया गया है। कपड़े और रंग से लेकर ऑफिस या घर के काम से लेकर उठने, बैठने, चलने, बात करने आदि का तरीका भी लैंगिक आधार पर ही बटा हुआ है। लिहाज़ा खेल भी इस प्रवृत्ति से […]

पति पर चल रही गोलियों से भी देश के खातिर जिस स्त्री का कदम नहीं रूका- तारा रानी श्रीवास्तव

भारतीय इतिहास में भारत पर 200 साल राज करने वाला भले ही इंग्लैंड का पुरुष साम्राज्य था। पर भारत के लोगों को अंग्रेजों से आजाद करने में यहां की महिलाओं की भी उतनी ही भूमिका है जितना कि यहां के पुरुषों का। चाहे रानी लक्ष्मीबाई हो, सरोजिनी नायडू हो या सावित्रीबाई फुले। सभी ने क्रूर […]

बिहार की उन महिलाओं की कहानी जिन्होंने दूसरों के लिए रखी विकास की नीव

बिहार की पहली महिला गवर्नर : सरोजिनी नायडू  सरोजिनी नायडू ( नी चट्टोपाध्याय ; 13 फरवरी 1879 – 2 मार्च 1949) एक भारतीय राजनीतिक कार्यकर्ता और कवि थीं। नागरिक अधिकारों , महिलाओं की मुक्ति और साम्राज्यवाद विरोधी विचारों की समर्थक , वह औपनिवेशिक शासन से स्वतंत्रता के लिए भारत के संघर्ष में एक महत्वपूर्ण व्यक्ति […]