पटना के वो दिन-यादों की कलम से।

सात साल हो गए हैं घर को छोड़े हुए। छोड़ने की वजह – पढाई ,नौकरी ,ट्रेनिंग इत्यादि । इन्ही चक्करों में एक शहर से दुसरे शहर भटकती रही हूँ। लगता है ज़िन्दगी का अच्छा ख़ासा हिस्सा बिता दिया है करियर बनाने की राह में ।...
शराबबंदी

बिहार और शराबबंदी |

उस दिन चौथी कक्षा में पढ़ाते समय एक सवाल आया था “आपको पेड़-पौधों से क्या-क्या प्राप्त होता है?” मैंने सीधा सवाल बच्चों से किया और बहुत सारे जवाब मिले जो आप भी देंगे, मसलन फल, फूल, जलावन, लकड़ी, ऑक्सीजन वैगेरह-...

एक प्राउड बिहारी का खुला-ख़त |

आदरणीय बिहार के लिए चिंतित देशवासियों! सादर प्रणाम! ख़त हमेशा से ट्रेंड में है| कोई चोरी-छिप्पे ख़त खोलता है तो कोई खुला-ख़त लिखता है| पता नहीं एक लड़की अपना पहला ख़त किसके नाम लिखना चाहती है? पिता को, प्रेमी को...

The “rediscovery” of Bodh Gaya !

The Story of the “rediscovery” of Bodh Gaya Bodh Gaya today is a classic and living example of how some silent pages in history can acquire voice after ages, and can become part of the mainstream lore. Imagini...

एक तरफ जय श्री राम तो दूसरी ओर जुमे की नमाज अदा हो रही थी!

पटना : रामनवमी के मौके पर बिहार समेत पूरे मुल्क़ में श्रद्धा और भक्ति का माहौल है। पूजा और जुलूस के दौरान कोई अनहोनी न हो इसके लिए पुलिस मुस्तैद है। इसी दौरान पटना में एक अनोखा नज़ारा देखने को मिला। एक तर...