सौहार्द (मित्रता) का परिचय देते पटना के मंदिर और मस्जिद

पूरे देश में मस्जिद में बज रहे लाउडस्पीकरों को लेकर हंगामा है। कई राजनीतिक दल इस मुद्दे पर भरपूर राजनीति कर रहे हैं। तो कई दल इस मुद्दे से अपना जान बचाते दिख रहे हैं। और खबरिया चैनलों का तो दुकान ही हिन्दू- मुस्लिम का जाप करने से चलता है। ऐसे समय में जब पूरा […]

जानिए ईद की रस्में और ईद पर बनने वाले लज्जतदार पकवानों के बारे मे

भारत को त्योहारों का देश कहा जाता है। लेकिन इस त्योहारों के देश को और भी ज्यादा खूबसूरत बनाती है यहां की धर्मनिरपेक्षता। यहां हर धर्म, हर मजहब के लोग एक- दूसरे के त्योहार को उतनी ही खुशी और धूमधाम से मनाते हैं जितना वह अपने त्योहार को मनाते हैं। हां, आए दिन आपको जगह- […]

जानिए कैसे हुई मजदूर दिवस की शुरुआत और फिलहाल क्या है स्थिति

1 मई को पूरे दुनिया में अंतर्राष्ट्रीय मजदूर दिवस मनाया जाता है। 132 साल से इस दिन को मजदूरों के लिए मनाया जाता है। इस दिन को लेबर डे, श्रमिक दिवस, मजदूर दिवस और मई डे के नाम से भी जाना जाता है। मजदूर दिवस का दिन ना केवल श्रमिकों को सम्मान देने के लिए […]

गर्मी में ठंडक के साथ रखेगा, आपके स्वास्थ का भी ख्याल: ये एनर्जी ड्रिंक्स

गर्मियों का मौसम शुरू हो चुका है और तापमान भी धीरे-धीरे बढ़ रहा है । कुछ दिन बाद भीषण गर्मी का दौर शुरू हो जाएगा और तापमान अपने चरम पर होगा। ऐसे में तुम्हें खुद को बचाना होगा, लू और डिहाइड्रेशन से। और इन दोनों से बचने के लिए कोल्ड ड्रिंक बेस्ट ऑप्शन है। हां, […]

बिहार की पहली महिला फुटबॉलर गोल्ड मेडलिस्ट- अंशा सिंह

इस पितृसत्तात्मक समाज में हर छोटी से छोटी और बड़ी से बड़ी चीज़ लिंग को आधार पर वर्गीकृत किया गया है। कपड़े और रंग से लेकर ऑफिस या घर के काम से लेकर उठने, बैठने, चलने, बात करने आदि का तरीका भी लैंगिक आधार पर ही बटा हुआ है। लिहाज़ा खेल भी इस प्रवृत्ति से […]

पति पर चल रही गोलियों से भी देश के खातिर जिस स्त्री का कदम नहीं रूका- तारा रानी श्रीवास्तव

भारतीय इतिहास में भारत पर 200 साल राज करने वाला भले ही इंग्लैंड का पुरुष साम्राज्य था। पर भारत के लोगों को अंग्रेजों से आजाद करने में यहां की महिलाओं की भी उतनी ही भूमिका है जितना कि यहां के पुरुषों का। चाहे रानी लक्ष्मीबाई हो, सरोजिनी नायडू हो या सावित्रीबाई फुले। सभी ने क्रूर […]

देश का एकमात्र पश्चिमोभिमुख सूर्य मंदिर: औरंगाबाद

देश में सबसे प्राचीन शक्तिपीठों और ज्योतिर्लिंगों को माना जाता है। इन सभी का समय-समय पर जीर्णोद्धार किया गया। प्राचीनकाल में यक्ष, नाग, शिव, दुर्गा, भैरव, इंद्र और विष्णु की पूजा और प्रार्थना का प्रचलन था। बौद्ध और जैन काल के उत्थान के दौर में मंदिरों के निर्माण पर विशेष ध्यान दिया जाने लगा। ऐसा […]

5 अप्रैल 2022 से शुरू हो रहा है बिहार का महापर्व चैती छठ !

बिहार के चार दिवसीय महापर्व छठ पूजा बहुत धूमधाम से मनाया जाता है। यह पर्व साल में दो बार मनाया जाता है। मान्यताओं के अनुसार यह पर्व चैत्र महीने और कार्तिक महीने में मनाया जाता है। आपको बता दें कि चैत्र की नवरात्रि में चैती छठ पर्व का शुरुआत होता है। चैती छठ 5 अप्रैल […]

एक ग्रामीण महिला जिसे असाधारण कलात्मक कौशल का आशीर्वाद प्राप्त था – गंगा देवी

आज मधुबनी पेंटिंग भारतीय आदिवासी और लोक कला का प्रतीक है। जबसे मधुबनी पेंटिंग गांव के घरों की दीवारों से निकलकर कागज पर बनने लगीं तब से यह मुख्यधारा में काफी प्रचलित हुई। क्योंकि कागज एक जगह से दूसरी जगह आसानी से जा सकते थे। कागजों पर बनी मधुबनी पेंटिंग लोगों का ध्यान अपनी और […]