अविनाश दास

मोहल्ला से मुम्बई तक । जानिए अविनाश दास और उनके सफर की कहानी, उन्ही की ज़ुबानी

अब तक पेशे से पत्रकार रहे अविनाश दास अब "अनारकली ऑफ़ आरा" के जरिये अपनी दूसरी पारी फिल्म निर्देशक के रूप में शुरू करने जा रहे हैं। इनकी शाखाएं भले ही मायानगरी मुम्बई  पहुँच चुकी है लेकिन इनकी जड़ें बिहार में ही ह...
Bodhisattva International Film Festival, BIFF

बोधिसत्त्व इंटरनेशनल फिल्‍म फेस्टिवल से लौटेगा बिहार का सांस्कृतिक गौरव

लोकरूचि-फेस्टिबल सांस्कृतिक गौरव फेस्टिबल से लौटेगा बिहार का सांस्कृतिक गौरव :गंगा कुमार   पटना 15 फरवरी 2017 : बोधिसत्त्व इंटरनेशनल फिल्‍म फेस्टिवल (बीआईएफएफ) 2017 के चेयरमैन गंगा कुमार का कहना है क...

सात निश्चय थीम पर बदलते बिहार की तस्वीर प्रस्तुत कर रहा है यह पेंटिग

पद्म श्री श्रीमती बऊआ देवी सात निश्चय थीम पर कलाकारों और छात्रों ने मिलकर पूरी की पेंटिग, बदलते बिहार की तस्वीर प्रस्तुत कर रहा है पेंटिग आज पटना पुस्तक मेले में मेड इन इंडिया के कला ग्राम में दी इंडिया आर्ट...
प्रशांत सिंह

“मेड इन इंडिया” को बनाने वाले कला के पारखी प्रशांत सिंह की कहानी

मोईन आज़ाद - वे कलाकारों के दिलों में राज करते हैं. देशभर में विलुप्त हो रहे कला व कलाकारों को वे दुनिया के सामने ला रहे हैं. वे मेक इन इंडिया के फाउंडर प्रशांत सिंह हैं. उनके जीवन के बारे में जानकर आप काफी ...
जितवारपुर, jitwarpur, Baua Devi

बिहार ही नहीं, भारत का इकलौता गांव जिसने तीन पद्म श्री पुरस्कार अपने नाम किया

यह बिहार का एक ऐसा गांव है जिसने एक नहीं बल्कि तीन-तीन पद्मश्री पुरस्कार अपने नाम किया है. अभी तीसरा पद्मश्री पुरस्कार बौआ देवी को मिला है. मधुबनी के इस गांव का नाम है जितवारपुर. जिसकी मिट्टी के हर कण में जीत...
350वें प्रकाशोत्सव

श्री गुरूगोविंद सिंह जी महाराज के 350वें प्रकाशोत्सव के अवसर पर सांस्कृतिक समारोह का आयोजन

पटना : सिखोें के दसवेें गुरू श्री गुरू गाविन्द सिंह जी महाराज के जयन्ती पर 350वां प्रकाशोत्सव के में राज्य सरकार की कवायद के अन्तर्गत कला, संस्कृति एवं युवा विभाग द्वारा आठ दिनों का एक वृहत् सांस्कृतिक समारोह क...
पंकज त्रिपाठी

मकाउ फिल्‍म फेस्टिवल छोड़ कर आया अपने लोगों के बीच : पंकज त्रिपाठी

पटना : अभिनेता पंकज त्रिपाठी ने कहा कि आज बिहारी लोगों की प्रतिभा को दुनियां में सराही जा रही है। मुझे बिहारी होने पर गर्व है, इसलिए मकाउ फिल्‍म फेस्टिवल छोड़कर अपने लोगों से मिलने पटना फिल्‍म फेस्टिवल में आया।...