Bindeshwari Prasad Sinha

बिंदेश्वरी प्रसाद सिन्हा, जिन्होंने अपनी लेखनी से दी बिहार को नई पहचान।

बिहार के लेखकों के बारे में जब भी चर्चा होती है तो हमें सिर्फ कुछ गिने चुने नाम ही याद आते हैं, जैसे - आचार्य शिवपूजन सहाय, दिवाकर प्रसाद विद्यार्थी, रामधारी सिंह 'दिनकर’, राम बक्षी बेनीपुरी, फणीश्वर नाथ ' ...
School

साल की शुरुआत, कोरोना काल में स्कूल, कॉलेज और कोचिंग संस्थान खुलने के साथ।

रविवार यानी सभी के लिए छुट्टी का दिन। पूरे सप्ताह में सभी को रविवार का इंतजार बेसब्री से होता है, क्योंकि पूरे सप्ताह पढ़ कर और काम कर सब थक जाते हैं। लेकिन कोरोना वायरस के कारण इस साल सभी को इतनी लंबी छुट्...
क्रिश्चियनिटी

बिहार में ईसाई धर्म की ऐतिहासिक धरोहर

क्रिसमस में भले ही बच्चों के लिए सांता क्लॉज़ तौहफे लाते हो लेकिन बिहार के बच्चों के लिए पक्कल दढ़ीया वाला बुढ़वा ही क्रिसमस में अपना झोला लेकर आता है और बच्चा चिल्लाता है  देखो ' सांता आवेला'। क्रिसमस में ...
बिहार के मीडिया

लोकतंत्र का चौथा स्तंभ, बिहार में कब हुआ आरंभ?

आज हम बिहार के मीडिया की बात करेंगे। हां ये बात और है कि मीडिया का नाम सुनते ही सुशांत सिंह राजपूत, ड्रग्स, कंगना और दिलजीत दोसांझ के ट्वीट फाइट ज़रूर याद आएंगे।  इन सब चीज़ों के बारे में तो आए दिन हम सब सुनते ...
Clean Environment

Clean Enviroment Initiative By Patna Municipal Corporation

Having a clean environment to live and work in is no small matter. Cleanliness is important to make sure that everyone in the area stays healthy and can breathe easily. Technology can do wonders when used f...
सुर राजवंश

सूर साम्राज्य की ताकत – ए – पहचान, अपना सासाराम

सूर साम्राज्य की स्थापना एक अफगान राजवंश द्वारा की गई थी जिसने लगभग 16 वर्षों तक भारतीय उपमहाद्वीप के उत्तरी भाग में एक बड़े क्षेत्र पर शासन किया था, 1540 से 1556 के बीच, सासाराम के साथ, आधुनिक बिहार में, इ...