जानिए उस बिहारी को जिसे आज गूगल कर रहा है याद

जैसा की आप जानते ही होंगे की गूगल कुछ खास मौक़ो पर ही अपना डूडल जारी करता है। आज 1 नवम्बर 2017 को गूगल ने अपना डूडल अब्दुल क़वी देसनवी को समर्पित किया है, आख़िर क्यों ? क्या है इनके बारे में ख़ास जो गूगल ने इन्हे याद किया है। जानना है ? अब्दुल क़वी […]

तो ‘सरफ़रोशी की तमन्ना..’ एक बिहारी बिस्मिल ने लिखी है !!

है लिए हथियार दुश्मन ताक में बैठा उधर, और हम तैयार हैं सीना लिए अपना इधर। ख़ून से खेलेंगे होली गर वतन मुश्क़िल में है, सरफ़रोशी की तमन्ना अब हमारे दिल में है। महान क्रांतिकारी रामप्रसाद बिस्मिल अक्सर ये जो ग़ज़ल गाया करते थे, वो आज भी हर हिदुस्तानी के रगों में तूफान पैदा कर […]

किताबों का आशिक मौलवी खुदाबक़्श खान |

दुनिया के दूसरे सबसे बड़े ग्रंथालय खुदा बख्श ओरियंटल पब्लिक लाइब्रेरी के संस्थापक खुदाबक़्श खान की जयंती पर जानिये इस लाइब्रेरी के महत्व की कहानी. खुदाबक़्श ओरियेन्टल लाइब्रेरी भारत के सबसे प्राचीन पुस्तकालयों में से एक है जो बिहार प्रान्त के पटना शहर में स्थित है। मौलवी खुदाबक़्श खान के द्वारा संपत्ति एवं पुस्तकों के […]