हर बार से कैसे अलग है इस बार के कोरोना काल में नए साल का आगमन?

 

बिहार में इलेक्शन का टेंशन और कोरोना की बातें, दोनों ही कर – कर के लोग भी आज की तारीख़ में थक चुके हैं, नया साल आ रहा है तो थोड़ी अच्छी बातें कर लेते हैं। अब चाहे कोरोना वैक्सीन हो या किसान बिल पर फैसला, सारी उम्मीदें आने वाले नए साल से ही जुड़ी हैं।

पटना के लोगों कि एक अलग ही परंपरा है। जैसे बिहार में शराबबंदी के पहले का आलम कुछ और ही था पर अब हालात कुछ और ही है। लोग नए साल के दिन की शुरुआत भगवान की पूजा- वंदना के साथ करते हैं, साथ ही अलग – अलग पार्कों, चिड़ियाघर और मूवी थिएटरों में दोपहर बिताते हुए पार्टियों में दिन का समापन किया करतें हैं। पटना में, नए साल के जश्न के लिए कई ऐसे स्थान हैं जहां लोग अपने परिवार और दोस्तों के साथ नए साल का जश्न मना सकते हैं जैसे गंगा दियारा जो कि एनआईटी घाट पटना के पास स्थित है और एनआईटी घाट का ज़िक्र सुनते ही शाम की आरती की याद भी लाज़मी है। यहां नए साल की रात पर, बिहार राज्य पर्यटन विभाग उन लोगों के लिए विशेष सुविधाएं प्रदान करती है जो नए साल कि पार्टी के लिए गंगा दियारा आया करतें हैं। यहां आने कि ख़ास वजह ये है कि यह स्थान गंगा नदी के किनारे स्थित है। अब आप में से कई लोग होंगे जिन्हें प्रकृति से लगाव होता है वो पटना ज़ू न जाए ऐसा हो ही नहीं सकता। यहां तरह तरह के जानवरों, पक्षियों को देखकर पूरे दिन का आनंद लेते हुए लोगों का जमावड़ा देखने को मिल ही जाता है।

पटना के हर एक पार्क में एक अलग ही जश्न वाला माहौल देखने को मिलता है। कुछ लोग एमवी गंगा विहार जा कर भी अपना नया साल मनाया करतें जहां बिहार राज्य पर्यटन द्वारा गंगा नदी पर एक जहाज सह फ्लोटिंग रेस्तरां प्रदान किया जाता है। पटना के मॉल और सिनेमा घरों में भी लोगों की भीड़ देखने को मिलती रही है।

पटना की बात करें तो नए साल कि रात लोग अपना सारा समय अपने घरों में बिताए ऐसा हो नहीं सकता। यहां के होटल, क्लब, रेस्तरां और कॉफी की दुकानें हि नहीं बल्कि पूरा सहर जगमगा उठता है। लोगों को आकर्षित करने के लिए पटना के विभिन्न होटलों द्वारा कई आकर्षक पेशकश की तैयारी भी रहती है। कई होटल नए साल की शाम पर लोगों के लिए विशेष योजनाएं लेकर आते हैं। यहां के होटलों में विशेष तैयारी के साथ नए साल के स्वागत में कोई कमी ना हो इसका भी पूरा ध्यान रखा जाता है।

प्रमुख रेस्तरां, और कॉफी के दुकानों में लोगों के मुंह में पानी ला देने वाले व्यंजनों की पेशकश रहती है और ऐसी जगहों पर लुफ़्त उठाते हुए लोगों के झुंड देखने को मिलते हैं। पटना के होटलों कि बात करें तो इस साल होटल मौर्या, होटल एवीआर, होटल पनाश, होटल अमल्फी, होटल क्लार्क इन जैसे अन्य कई होटलों में अलग-अलग तरह से 31 दिसंबर की शाम को जश्न की तयारी की गई है। हालांकि कोरोना संक्रमण को मद्दे नज़र रखते हुए कई जगहों पर न्यू इयर पार्टी सादगी के साथ मनाई जाएगी और कइयों को नयी गाइडलाइन का इंतजार है। इन्हीं सब कारणों से इस बार कोई बड़े सेलिब्रिटी को नहीं बुलाया जा रहा है। कोई भव्य कार्यक्रम भी नहीं किया जाएगा ताकि अधिक भीड़ न इक्कठा हो सके।

 

न्यू इयर पार्टी के लिए पटना के होटल और बैंक्वेट हॉल का कुछ इस तरह तैयार है –

1. होटल मौर्य – 31 दिसंबर की शाम से होटल मौर्या में गाला नाइट का आयोजन किया जाएगा। इस दौरान होटल के रेस्तरां वाले जगह में लाइव म्यूजिक होगा।

2. गार्गी ग्रैंड – हर बार की तरह इस साल भी होटल गार्गी ग्रैंड कुछ स्पेशल ले कर आया है। इस साल होटल को जंगल थीम पर सजाया जायेगा। 31 दिसंबर की रात होटल के मेन गेट से अंदर तक गुफानुमा तैयार किया जायेगा।

3. होटल पनाश – लोगों के उत्साह को बरकरार रखते हुए होटल पनाश में भी 31 दिसंबर की शाम पार्टी रखी गयी है। यहाँ पटना का डीजे बैंड के साथ-साथ बेहतरीन सिंगर भी मौजूद होंगे, जो लाइव म्यूजिक परफॉर्म करने वाले हैं। इस दौरान बुफे भी लगाया जायेगा।

4. होटल अमल्फी – कोरोना को मद्दे नज़र रखते हुए होटल अमल्फी में डीजे नाइट रखा जायेगा। इस धमाकेदार कार्यक्रम का नाम ‘चियर्स 2021’ रखा गया है।

Comments

comments