बिहार के धरहरा गांव में पेड़ लगाकर मनाया बच्चियों के जन्म का जश्न

बिहार के धरहरा गांव में पेड़ लगाकर मनाया बच्चियों के जन्म का जश्न

भारत के कई क्षेत्र बेटी को एक बोझ के रूप में देखते हैं और कुछ समुदाय एक बालिका को मारने की हद तक चले जाते हैं। कई मामलों में, परिवार गर्भपात का विकल्प भी चुनते हैं यदि अल्ट्रासाउंड स्कैन से पता चलता है कि भ्रूण महिला है।


लेकिन बिहार के भागलपुर के धरहरा गांव के निवासियों के लिए, एक लड़की का जन्म खुशी का एक अवसर है जो वो एक अनोखी परंपरा का पालन करते हुए मनाते हैं। जब भी कोई लड़की पैदा होती है तो धरहरा के ग्रामीण कम से कम 10 पेड़ लगाते हैं। इस गांव की परंपरा ने भी कई लोगों को प्रेरित किया है और यहां और बिहार के अन्य हिस्सों में पैदा हुए सभी नन्हे फरिश्तों के लिए वरदान साबित हुआ है। बिहार के मुख्यमंत्री, नीतीश कुमार ने इस परंपरा को और लोकप्रिय बनाया और उन्होंने ‘पहली किलकारी योजना’ नामक एक कल्याणकारी योजना भी शुरू की।

परंपरा के अनुसार, जब भी परिवार में किसी लड़की का जन्म होता है, तो उसके नाम पर फलदार पेड़ लगाए जाते हैं। इस विशेष पेड़ के फल और कभी-कभी लकड़ी भी बेचकर, लड़की की शादी होने तक अच्छी-खासी रकम जमा हो जाती है। ये सर्वविदित है कि भारत में दहेज कानून के विरुद्ध होने के बावजूद अभी भी एक खतरा है और ऐसी स्थिति में, अतिरिक्त आय परिवार की किटी के लिए एक स्वागत योग्य अतिरिक्त है।ये रीत न केवल लड़कियों को सशक्त और संरक्षित करती है, बल्कि यह पर्यावरण के लिए भी वरदान है। समय की मांग है कि अधिक से अधिक वृक्षारोपण किया जाए क्योंकि वन आवरण में उल्लेखनीय कमी आई है।
ग्रामीणों का दावा है कि पेड़ सावधि जमा की तरह काम करते हैं। भले ही गाँव की आबादी लगभग 7,000 है, फिर भी 1,00,000 से अधिक पूरी तरह से उगाए गए आम और लीची के पेड़ हैं, जो एक लड़की के जन्म के समय लगाए गए थे। अब, ये पेड़ क्षेत्र में आवश्यक हरित आवरण प्रदान करते हैं और इसे एक छोटे जंगल की तरह बनाते हैं।

If you, too, have a story the world needs to know, send us at [email protected] We are Patnabeats, Redefining The Word Bihar!

References:-

https://www.india.com/news/india/bihars-dharhara-village-celebrates-birth-of-girls-by-planting-trees-2400458/amp/

Don’t Want to miss anything from us

Get Weekly updates on the latest Beats from
Bihar right in your mail.

BEAT BY

Sakshi