Sparrow

कबाड़ से जुगाड़: विलुप्त होती गोरैया के संरक्षण का संदेश देती कलाकृति से सजा कंकड़बाग टेम्पू स्टैंड का गोलंबर

कंकड़बाग अवस्थित टेम्पू स्टैंड गोलंबर पर कबाड़ से जुगाड़ के थीम पर गोरैया की कलाकृति लगायी गयी है। यह अपशिष्ट प्रबंधन के गोल्डन रूल-3 R (reduce-reuse-recycle) के प्रति शहरवासियों को जागरुक करने के उद्येश्य से पटना नगर निगम द्वारा कई स्थलों पर कलाकृतियां, फर्नीचर, पार्क, सेल्फी प्वॉइंट तैयार किये गए हैं।  आमतौर पर शहर के गोलंबर पर पथ प्रदर्शक महापुरुषों की मूर्ति अथवा फव्वारे आदि सजाए जाते हैं। मगर टेम्पू स्टैंड गोलंबर शहर का पहला ऐसा गोलबंर है जहां वेस्ट टू वंडर थीम पर तैयार कलाकृति तैयार की गई है, पटना नगर निगम ने बताया।

पटना आर्ट्स कॉलेज के तीन पूर्ववर्ती छात्रों ने दो हफ्तों में इस कलाकृति को तैयार किया है। इसे बनाने में पटना नगर निगम की पुरानी, बेकार चीजों जैसे टंकी, पाइप, डस्टबिन आदि का इस्तेमाल किया गया है।

विलुप्त हो रहे जीव और खत्म हो रही परंपरा के संरक्षण का संदेश देने के उद्येश्य से पटना नगर निगम ने यह पहल की है।

शहर के कई कोने वेस्ट से बने वंडरफुल

इसी तरह की कलाकृति पटना नगर निगम के नूतन राजधानी अंचल के कार्यालय परिसर में भी तैयार की गई है। यहां पुराने लोहे से हिरण की कलाकृति तैयार कर सजाई गई है। वहीं, बांकीपुर अंचल कार्यालय में पुराने टायर से प्लांटर तैयार किए गए हैं। मुख्यालय परिसर यानी मौर्य लोक में कबाड़ से जुगाड़ की थीम पर ही चिल्ड़्रेन पार्क और गार्डेन लाइब्रेरी तैयार की गई है जहां झूले, प्लांटर, फर्निचर, अलमारी, साज-सज्जा की चीजों को कबाड़ की चीजों से तैयार किया गया है।

Don’t Want to miss anything from us

Get Weekly updates on the latest Beats from
Bihar right in your mail.