आज से दो दशक पहले मीडिया क्षेत्र में अपनी पहचान बनाने वाली बिहार की शान: श्वेता सिंह

पटना, बिहार की रहने वाली श्वेता सिंह भारत के मशहूर पत्रकारों में से एक है। जिनका जन्म 21 अगस्त 1977 को बिहार के मध्यमवर्गीय हिन्दू परिवार में हुआ। श्वेता सिंह अपनी शुरुआती शिक्षा अपने गृहनगर से पूरा की और उसके बाद उन्होंने पटना विमेंस कॉलेज से मास कम्युनिकेशन में अपना स्नातक पूरा किया। बचपन में श्वेता सिंह फिल्म प्रोड्यूसर बनना चाहती थी लेकिन पढ़ाई के दौरान उन्हें अहसास हुआ की फिल्मों में काम करना इतना भी आसान नही है। इसलिए उन्होंने अपनी पढ़ाई पर ज्यादा ध्यान देना शुरू कर दिया। श्वेता सिंह एक अच्छी स्टोरीटेलर थी। इसलिए पढ़ाई के दौरान ही श्वेता ने एक पत्रकार के तौर पर लोकल न्यूज़ पेपर के लिए आर्टिकल लिखना शुरू कर दिया था। श्वेता टाइम्स ऑफ़ इंडिया और हिंदुस्तान टाइम्स जैसे न्यूज़ पेपर के लिए आर्टिकल लेखन का काम किया करती थी।

स्नातक की पढ़ाई पूरी करने के बाद श्वेता सिंह राजधानी दिल्ली आ गई, दिल्ली में श्वेता सिंह ने 1998 में इलेक्ट्रॉनिक मीडिया में अपना कदम रखा।
अपने शुरूआती सफ़र में उन्होंने ज़ीन्यूज़, सहारा न्यूज़ जैसे मीडिया ग्रुप के साथ काम किया। 2002 में वह न्यूज़ प्रेजेंटर के रूप में इंडिया टुडे ग्रुप के हिंदी चैनल “आज तक” के साथ जुड़ गईं। 15 वर्षो से अब तक “आजतक” न्यूज़ चैनल में अपनी सेवाएं दे रही हैं। मीडिया क्षेत्र में श्वेता सिंह लगभग दो दशक पहले से जुड़ी हुई हैं।

श्वेता सिंह को शुरुआती से स्पोर्ट्स से सम्बंधित समाचारों को कवर करने में विशेषज्ञता हासिल थी, और निपुण भी मानी जाती है। इसी गुण से आजतक चैनल में श्वेता सिंह ने खूब नाम कमाया।
इतना ही नही उन्होंने आजतक के लिए “एग्जीक्यूटिव ऑफ़ स्पेशल प्रोग्रामिंग” के तौर पर भी काम किया है।

श्वेता सिंह के पति का नाम संकेत कोटकर है जो ब्राम्हण परिवार से ताल्लुक रखते हैं। प्रोफेशन से संकेत कोटकर सॉफ्टवेयर इंजीनियर हैं।

श्वेता सिंह की काबिलियत का रिवॉर्ड 2005 में देखने को मिला, जब श्वेता को स्पोर्ट्स जर्नलिज्म फेडरेशन ऑफ इंडिया (SJFI) द्वारा बेस्ट स्पॉट्स प्रोग्राम के अवार्ड से सम्मानित किया गया था। श्वेता सिंह आजतक में एक प्रोफेशनल न्यूज़ एंकर के साथ-साथ स्पेशल प्रोग्रामिंग की एग्जीक्यूटिव भी है। इन्होने आजतक समाचार प्रस्तुतकर्ता के रूप में कई हिंदी फिल्मो में भी काम किया है।

श्वेता ने बिहार विधान सभा चुनाव, 2015 के दौरान प्रोग्राम शुरू किया जिसका नाम था “हिस्ट्री ऑफ़ पाटलीपुत्र”। यह शो लोगों के बाई खूब पसंद किया गया।

कई मौके पर श्वेता सिंह की काफी आलोचना भी हुई। लेकिन श्वेता सिंह बिना डरे निडर होकर अपना काम करती रहीं। और उन्हें इसी बेबाकी से एंकरिंग करने के लिए कई पुरस्कारों से भी नवाजा गया।

2012 में NT अवार्ड 2012 में सर्वश्रेष्ठ एंकर के लिए सम्मानित किया गया।
2013 में ENBA पुरस्कार सर्वश्रेष्ठ निर्माता के लिए से सम्मानित किया गया।
2015 में बेस्ट टॉक शो एंटरटेनमेंट में बेस्ट एंकर के लिए अवॉर्ड से सम्मानित किया गया।
2017 में बेस्ट एंकर के लिए ENBA अवार्ड से सम्मानित किया गया।

Malda Aam

Don’t Want to miss anything from us

Get Weekly updates on the latest Beats from
Bihar right in your mail.