satyam verma

ज़िन्दगी के आपाधापी की खामियां गिनाती राजेश कमल की ‘एक कविता बिहार से’

राजेश कमल का जन्म सहरसा में हुआ और फ़िलहाल पटना में रहते हैं। समाज से काफ़ी जुड़े होने के कारण उनकी कविताओं में प्रेम, समाज, देश, राजनीति के मानवीय भावनाओं का समावेश दिखता है। समकालीन परिस्थितियों को राजेश शब्दों ...

औरतों की हालत पर सवाल उठाती कविता ‘हमारे समाज से’ | एक कविता बिहार से

पटना के आयुष सौरभ को लिखने-पढ़ने का शौक है एवं बी.एन. कॉलेज के छात्र हैं। आजकल के स्मार्टफोन जेनेरशन से आने के बाद भी 'अबोध बालक' के तख़ल्लुस में लिखने वाले आयुष, कविता की पुरानी शैली को जीवित रखे हुए है। इनकी कवितायों में आपको संदेश, प्रेरणा और आत्मबोध का मिलाप...

दुनिया भर के रचनाकारों को अपनी जिम्मेदारी का बोध कराती एक कविता बिहार से

ऐश्वर्य राज का ताल्लुक़ बिहार के भागलपुर शहर से है। शुरूआती पढ़ाई बिहार से करने के बाद, ऐश्वर्य दिल्ली विश्वविद्यालय के मिरांडा हाउस से दर्शनशास्त्र में स्नातक कर रहीं हैं। विश्वविद्यालय स्तर पर कई वाद-विवाद प्रत...