इस साल बिहार के क्रिकेटरों को मिलेगी धोनी की सौगात

वर्ष 2003 के बाद बिहार में क्रिकेट का खेल फिर अंगड़ाई लेने लगा है। भारतीय क्रिकेट टीम को बुलंदियों तक पहुंचाने वाले महेंद्र सिंह धोनी पटना में विश्व स्तरीय क्रिकेट एकेडमी शुरू करने वाले हैं। इसके लिए मैदान का चयन हो चुका है। करार के पहले की प्रक्रिया लगभग पूरी कर ली गई है। धोनी के साउथ अफ्रीका दौरे से 25 फरवरी के लौटते ही करार कर लिया जाएगा। करार की प्रक्रिया रांची में पूरी की जाएगी, किंतु उद्घाटन के दौरान धोनी सपत्नीक पटना में मौजूद रहेंगे।

राजधानी पटना के पटेल नगर स्थित ऊर्जा स्टेडियम में प्रस्तावित धोनी की यह तीसरी ग्लोबल क्रिकेट एकेडमी होगी। पहली एकेडमी दुबई में 11 नवंबर को खुली थी और दूसरी सिंगापुर में पिछले महीने से काम कर रही है। दोनों एकेडमियों में धोनी अक्सर जाते रहते हैं और युवाओं को प्रशिक्षण भी देते हैं।

धोनी का काम देख रहे क्रिकेटर मिहिर दिवाकर ने बताया कि धोनी का प्लान पूरी दुनिया में 18 क्रिकेट एकेडमी खोलने का है। इनमें से चार भारत में होगी। पटना के अलावा लखनऊ, नागपुर और रांची में भी तैयारी चल रही है। लखनऊ एकेडमी के लिए करार हो चुका है। इसी साल के अंत तक शुरू कर दिया जाएगा। सभी एकेडमी विश्वस्तरीय होंगी। पटना में 150 बच्चों को प्रशिक्षु के रूप में रखा जाएगा। चयन ट्रायल के आधार पर होगा।

दिवाकर के मुताबिक एकेडमी का उद्घाटन आईपीएल मैच के पहले या बाद में होगा, क्योंकि मैच के दौरान धोनी को समय निकालना मुश्किल होगा। विदित हो कि आईपीएल के मैच सात मार्च से शुरू होकर 27 अप्रैल तक चलेंगे। हालांकि बिहार सरकार की कोशिश है कि एकेडमी का उद्घाटन आईपीएल मैच के पहले ही करा लिया जाए। इसके लिए धोनी के विदेश दौरे से लौटते ही ऊर्जा विभाग के प्रधान सचिव प्रत्यय अमृत पहल कर सकते हैं।

बिहार में क्रिकेट एकेडमी की जरूरत बताते हुए दिवाकर कहते हैं कि धोनी का मकसद न केवल बच्चों को क्रिकेट की बारीकियों के बारे में जानकारी देना होगा, बल्कि उन्हें चैंपियन बनाने का भी प्रयास होगा। बिहार के बच्चों को बहुत सालों से उत्कृष्ट मौका नहीं मिला है। हम उन्हें मौका प्रदान कर अंतरराष्ट्रीय स्तर का क्रिकेटर बनाने का प्रयास करेंगे। युवा खिलाडिय़ों को क्रिकेट की बारीकियों से अवगत कराया जाएगा और नई तकनीक सिखाई जाएगी।

पटना में क्रिकेट एकेडमी खोलने के लिए धोनी की सहमति मिलने के बाद दिवाकर यहां आकर स्टेडियम का निरीक्षण भी कर गए हैं। छह एकड़ में बने इस स्टेडियम में अंडर-19 टीम के सदस्य अनुकूल राय भी खेलते रहे है। स्टेडियम की क्षमता अभी डेढ़ हजार दर्शकों की है, लेकिन जल्द ही बढ़ाकर पांच हजार क्षमता का बनाना है। ऊर्जा विभाग ने अक्टूबर 2016 में इसे 11 करोड़ की लागत से बनाया था।

दिवाकर के निरीक्षण और धोनी की सहमति के बाद इसकी क्षमता बढ़ाने की पहल हुई है। इसके लिए पिछले हफ्ते भारतीय जीवन बीमा निगम (एलआईसी) के अध्यक्ष विजय कुमार शर्मा ने स्टेडियम परिसर में नए दर्शक दीर्घा प्रोजेक्ट का शिलान्यास किया। 50 लाख की राशि भी स्टेडियम की सोसायटी को उपलब्ध करा दी गई है। दो जूनियर एकेडमी भी खुलेगी

देश में चार बड़े एकेडमी के अलावा दो जूनियर एकेडमी भी खोलने की तैयारी है। दिवाकर ने बताया कि एक बरेली में खुल चुकी है और दूसरी नोएडा में खोलने की तैयारी चल रही है। विदेशों में दुबई और सिंगापुर के अलावा साउथ अफ्रीका के डरबन, ऑस्ट्रेलिया के सिडनी, हांगकांग, कुआलालंपुर, डर्बन एवं केपटाउन में भी खोलने की सहमति बन चुकी है। धोनी अपने हर क्रिकेट एकेडमी में खुद जाकर युवाओं के साथ अपना अनुभव शेयर करते रहते हैं।

Source: Jagran

Do you like the article? Or have an interesting story to share? Please write to us at [email protected], or connect with us on Facebook and Twitter.


Quote of the day:"If you talk to a man in a language he understands, that goes to his head. If you talk to him in his language, that goes to his heart."Nelson Mandela

Comments

comments

About The Author

Born in Bihar, brought up in India!

Related Posts