पंजवार, Bihar,आखर सम्मलेन, Bhojpuri Bhojpuri samman, Aakhar

सीवान के पंजवार गांव में तीन दिसंबर को लगेगा भोजपुरी साहित्य और संस्कृति का जमावड़ा

हर साल सर्दियां शुरू होते ही साहित्य महोत्सवों का दौर शुरू हो जाता है। जयपुर लिट् फेस्ट, दिल्ली साहित्य महोत्सव और रेख़्ता जैसे बड़े साहित्यिक आयोजनों में देश भर से हज़ारों लोग जुटते हैं एवं साहित्य का जश्न मनाते ...
आइब गेलियौ परदेस, Maithili song

अगर आप भी बिहार से दूर रहते हैं तो ये मैथिली गीत आपके लिए है

अपने प्रदेश की भाषा की बात ही कुछ और होती है। मिथिलांचल के करीब होने के कारण मैथिली भाषा की मिठास से भली भांति अवगत हूँ। अब इस मिठास में मधुर संगीत और हरिहरन जी की आवाज़ मिल जाये तो क्या बात हो? “आइब गेलियौ परदे...