प्रकाश पर्व फिल्म महोत्सव में गुरुओं की गाथा देख विभोर हुए सिख

पटना : गुरु गोविन्द सिंह के 350वें प्रकाश पर्व के अवसर पर कला संस्कृति एवं युवा विभाग के अंतर्गत आयोजित विभिन्न सांस्कृतिक कार्यक्रमों की श्रंखला में बिहार राज्य फिल्म विकास एवं वित्त निगम द्वारा प्रकाशपर्व फिल्म महोत्सव का शुभारंभ चैंबर ऑफ कामर्स के सभागार में हुआ। प्रकाशपर्व फिल्म महोत्सव में प्रथम दर्शक के रूप में शिरकत करते हुए कला, संस्‍कृति एवं युवा विभाग, बिहार के माननीय मंत्री श्री शिवचंद्र राम ने कहा कि गुरू गोविंद सिंह जी महाराज के 350वें प्रकाशोत्‍सव के मौके पर पूरी राजधानी में कई सांस्‍कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन हो रहा है। इसी क्रम में बिहार राज्य फिल्म विकास एवं वित्त निगम ने सिख समुदाय को केंद्र में रखकर यह आयोजन किया गया है। इस उत्‍सव में लोग सिनेमा के जरिए भी गुरू गोविंद सिंह की शिक्षा व सिख समुदाय की खूबियों को दिखाया जाएगा।
महोत्सव की शुरुआत1969 में बनी पंजाबी फिल्म नानक नाम जहाज से हुई।राम माहेश्वरी द्वारा निर्देशित इस फिल्म को सर्वश्रेष्ठ पंजाबी फिल्म के साथ सर्वश्रेष्ठ संगीत  के लिए भी राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार से सम्मानित किया गया था।इसे पंजाबी की पहली सफल फिल्म मानी जाती है।2015 में यह फिल्म दोबारा रिलीज की गई थी।फिल्म में मुख्य भूमिका में पृथ्वी राज कपूर,आइ एस जोहर,विम्मी और निशि ने निभायी थी।
फिल्म प्रदर्शन के पूर्व निगम के प्रबंध निदेशक गंगा कुमार ने कहा कि यह महोत्सव प्रकाश पर्व के उत्साह में बिहार पधारे सिख संगतों को घर का अहसास देगा।उन्होंने कहा कि महोत्सव का मुख्य उद्देश्य सिख धर्म की शिक्षा को फिल्म महोत्सव के माध्यम से प्रदर्शित करना है।फिल्मों के चयन में लोकरुचि के साथ धर्म और संस्कृति की गरिमा का भी ध्यान रखा गया है।
महोत्सव के दूसरे सत्र में  हैरी बावेजा की चर्चित एनीमेशन फिल्म चार साहबजादे और मनमोहन सिंह की मेरा पिंड दिखायी गयी। मेरा पिंड में हरभजन मान,किमी वर्मा के साथ नवजोत सिंह सिद्धू भी मुख्य भूमिका में हैं।इसमें नवजोतसिद्धू ने एक एन आर आई की भूमिका निभायी है,जो अपने गांव लौटता है और अपनी उद्यमिता और युवाओं के सहयोग से गांव की तस्वीर बदल देता है।यह फिल्म रोचक अंदाज में सिखों के संघर्ष और उनके जीवट को भी प्रदर्शित करता है।
महोत्सव के दूसरे दिन ‘फ्लाइंग जट’,’अरदास’ और ‘वारिश शाह-इश्क द वारिस’ दिखायी जाएगी।‘वारिश शाह’ पंजाबी की श्रेष्ठ फिल्मों में शुमार की जाती है जिसे विभिन्न श्रेणियों में चार नेशनल अवार्ड मिले थे।फिल्म में मुख्य भूमिका जूही चावला,गुरदास मान और दिव्या दत्ता की है। इस दौरान कला, संस्‍कृति एवं युवा विभाग, बिहार के अपर सचिव आनंद कुमार, फिल्‍म समीक्षक विनोद अनुपम और मीडिया प्रभारी रंजन सिन्‍हा के अलावा कई गणमान्‍य अतिथि भी उपस्थित रहे।

Do you like the article? Or have an interesting story to share? Please write to us at [email protected], or connect with us on Facebook and Twitter.


Quote of the day:“Never lose hope. Storms make people stronger and never last forever.” 
― Roy T. Bennett, The Light in the Heart

Comments

comments