फणीश्वर नाथ ‘रेणु’ से मुलाक़ात : पटना की यादों का एक पन्ना | निवेदिता शकील की ज़ुबानी

पटना शहर के अतीत के पिटारे में साहित्यिक सम्पदा का खजाना भरा है। इस शहर का बड़ा ही आत्मिक नाता बिहार और देश के विलक्षण साहित्यिक प्रतिभाओं से रहा है। इस शहर की पुरानी गलियां, पुराने ठिकाने और पुरानी इमारतें अपने...

इतिहास के पन्नों में बनता बदलता पटना | निवेदिता शकील की ज़ुबानी

पाटलिपुत्र से अज़ीमाबाद से पटना तक के सफर में ये शहर कितने ही बदलावों, आंदोलनों, विचारधाराओं और कला एवं संस्कृति का गढ़ रहा है। अतीत से अब तक के इस सफर और इस सफर के तमाम पड़ावों की तस्वीर निवेदिता शकील शब्दों के ज़...

बाल दिवस की सौगात बिहार का पहला बाल समाचार पत्र हुआ शुरू

पटना/मुजफ्फरपुर, 14 नवंबर : बाल दिवस के अवसर पर आज मुजफ्फरपुर के गायघाट प्रखंड के जारंग हाई स्‍कूल में भारत की बच्चों की पहली समाचार सेवा (स्क्रैपी न्यूज सर्विस) की शुरूआत मुजफ्फपुर पूर्वी  के अनुमंडल अधिकारी श...
Bird's Eye View of Patna

पटना : कल और आज | निवेदिता शकील की ज़ुबानी

हम अपने रोज़मर्रे की ज़िन्दगी में ऐसे व्यस्त होते हैं कि धीरे-धीरे कैसे हमारे आस-पास का शहर बदलता जाता है ये हम नोटिस नहीं कर पातें। ये बदलाव हमें तब नज़र आता है जब हम कुछ पल रुक के अपने शहर के अतीत और हमारे इस ...